अपडेशन तिथि: 26-Sep-2017    आगंतुक संख्या: 73943    IVRS हिट: 0
mil
yoj
त्वरित प्रशनावली

सर्वे प्रदर्शन शीघ्र उपलब्ध होगा, अगर सर्वे मे कोई गलती है या सर्वे दर्ज नही हुआ हो तो अपने क्षेत्र से सम्बंधित गन्ना पर्यवेक्षक से संपर्क करके जांचोपरान्त गन्ना सर्वे ठीक करा सकते है! अथवा कृपया मिल के गन्ना विभाग मे संपर्क करें । सर्वे प्रदर्शन उपरांत कैलेंडर तैयार होने पर एस एम एस द्वारा सूचना दी जाएगी, कैलेंडर वेबसाइट पर उपलब्ध होगा और प्रिंटेड प्रति वितरण की जाएगी। गन्ने की तौल पर्ची प्राप्त हुये बिना गन्ने की कटाई न करें। क्रप्या पर्ची के अनुसार स्वच्छ , रोग रहित व पत्ती अगोला रहित गन्ने की आपूर्ति करें। तौल की सूचना आप के मोबाइल परएस एम एस से दी जाएगी। गन्ने की तौल के 15 दिन के अंदर आपके बैंक खाते में भुगतान भेजा जाएगा, कृपया अपना सही बॅंक ख़ाता संख्या और मोबाइल नंबर अपने कृषक कोड के साथ रजिस्टर्ड करावें. भुगतान की सूचना एस. एम. एस. से आपके मोबाइल पर भेजी जाएगी.

भू अभिलेखों की खतौनी, पासपोर्ट साइज़ फोटो, मोबाइल नंबर, बैंक पास बुक की प्रमाणित फोटो प्रति, गन्ना से सम्बंधित घोषणा पत्र संलग्न करे।! कृषक भाई विस्तृत जानकारी के लिए अपने से सम्बंधित गन्ना पर्यवेक्षक अथवा गन्ना कार्यालय में संपर्क कर सकते है। सदस्य की मृत्यु अथवा वारिस हस्तांतरण के लिए गन्ना कार्यालय में संपर्क करें।

माह मे किसान भाई क्या करे
जुलाई माह :

  1. जुलाई माह में गन्ने की बढवार तेजी से होती है जिससे गन्ना फसल को अधिक पानी की आवश्यकता होती है यदि वर्षा न हो तो 10 - 12 दिन के अन्तराल में सिंचाई करते रहना चाहिये।
  2. यदि जून के माह में टोप बोरर के प्रकोप से बचाव के लिये कार्बोफ्यूरान न डाला हो तो जुलाई के प्रथम सप्ताह में 2 कि.ग्रा. / बीघा की दर से डाल दें।
  3. शरद्कालीन गन्ना बुवाई हेतु हरी खाद की बुवाई करें।
  4. जुलाई माह में लाल, सड़न रोग के लक्षण दिखायी देते हैं लाल सड़न से प्रभावित पौधों को खेत से निकाल कर नष्ट कर दें।
  5. जिन खेतों में वर्षा का पानी भर जाता है उसमें उचित जल निकास की व्यवस्था करें।
  6. गन्ने की फसल पर मिट्टी चढ़ाई का कार्य करें।
  7. गन्ने की फसल पर यदि पायरिला का प्रकोप दिखायी दे तो यह जाँच कर लें कि खेत में परजीवी है तो किसी रसायन का प्रयोग न करें अपितु दूसरे खेतों से परजीवी तोड़ कर खेतों में प्रकोपित कर दें।
  8. जिन खेतों मे गन्ने की बढ़वार अच्छी हो उनकी बँधाई अवश्य करायें ।